पर्थ टेस्ट

पर्थ टेस्ट के पहले दिन का खेल खत्म होने तक स्कोर 277/6 था आज के दिन खेलते हुए ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी 326 रनों पर सिमटी गयी। ऑस्ट्रेलिया ने आज सुबह अपने आखिरी चार विकेट केवल 16 रनों के अंदर गँवा दिए।

और पढें – चेतेश्वर पुजारा ने टेस्ट क्रिकेट में पूरे किये पांच हज़ार रन

कप्तान टिम पेन ने 38 रनों की अच्छी पारी खेली और साथ हि पैट कमिंस (19) के साथ सातवें विकेट के लिए बहुमूल्य 59 रन जोड़े, लेकिन 310 के स्कोर पर जब पैट कमिंस के आउट होने के बाद भारतीय टीम ने मेजबानों को ऑल आउट करने में ज्यादा टाइम नहीं लिया। मिचेल स्टार्क ने केवल 6 और जोश हेज़लवुड तो अपना खाता खोले बिना आउट हुए और साथ हि नाथन लायन 9 रन बना के नाबाद रहे।

पर्थ टेस्ट

भारत की तरफ से इशांत शर्मा अच्छा खेल दिखया और चार विकेट लिए  और जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव एवं हनुमा विहारी ने अपने खाते में दो-दो विकेट लिए।

भारतीय टीम की पहली पारी में शुरुआत कुछ जायदा अच्छी नहीं रही और लंच के समय भारतीय टीम  का स्कोर तीन ओवर में एक विकेट के नुकसान पर 6 रन था। मुरली विजय अपना खाता खोले बिना मिचेल स्टार्क की एक बहूत अच्छी गेंद पर आउट हुए।

पर्थ टेस्ट

लंच के तुरंत बाद हि केएल राहुल सिर्फ दो रन बनाकर जोश हेज़लवुड की गेंद पर आउट हो गए। अब भारत का स्कोर छठे ओवर में 8/2 हो गया था, लेकिन इसके बाद कप्तान विराट कोहली ने चेतेश्वर पुजारा ने टीम को संभाला और चाय तक टीम को और कोई विकेट नहीं दी । दोनों बल्लेबाजों ने तीसरे विकेट के लिए अब तक 62 रनों की साझेदारी निभा ली थी और दूसरे सत्र के बाद स्कोर 70 था।

लंच से चाय के बीच के टाइम में भारत ने 29 ओवर में एक विकेट के नुकसान पर 62 रन बनाये और टीम को संभाला । चाय के समय तक कोहली 37 और पुजारा 23 रन बनाकर नाबाद थे। भारतीय टीम अभी ऑस्ट्रेलिया से 256 रन पीछे है।

और पढें – वेस्टइंडीज़ टेस्ट सीरीज़ हारने के करीब, 75 रन के स्कोर पर गिरे पांच विकेट